Wednesday, May 30, 2012

A desire to see world

हर दिल की तम्मना बन पाना आसान  नहीं,
किसी एक दिल के लिए,
अपनी पूरी जिन्दगी बिताना आसान नहीं ...........
मेरी इन आँखों ने भी देखे ख्वाब कई पर,
किसी और की आँखों  का ख्वाब  
बन न पाई  सो जिन्दगी पाना भी,
मेरे दिल के लिए, आसान नहीं .........
माँ  की कोख मैंने महसूस की,
पर माँ के अलावा , जो किसी 
और की आंखो का  ख्वाब बन पाती,
तो शायद दुनिया भी देखने 
का ख्वाब मेरी ये आँखे संजो पाती ..
पर मेरे लिए तो माँ की गोद 
महसूस कर पाना भी आसान नहीं ........
हर दिल की तम्मना बन पाना आसान  नहीं,
किसी एक दिल के लिए,
अपनी पूरी जिन्दगी बिताना आसान नहीं .........
माँ के सपनो के साथ,
उनकी आँखों में पलती थी मै,
जब एक दिन अचानक उनकी आँखों.
से एक बूंद उनकी गोद में गिरी,
तब मैंने जाना की उनके लिए,
मुझे दुनिया में लाना आसान नहीं ........
बहा दी गयी उनकी कोख से मै
मुझे अपने से जुदा करते हुए ........
जो गिरे उनके आंसू तो मैंने जाना ...
किसी और का जुल्म सहना आसान नहीं .....
अपनी बेटी को जुदा ,
खुद से करना आसान  नहीं,
एक माँ के लिए.........
जो बन पाती किसी और दिल की तम्मना ,
तो जिन्दगी और माँ की मुस्कुराहट 
बन भी जाती मै,पर आसान नहीं ,
ये भी तो मेरे लिए ..........
हर दिल की तम्मना बन पाना आसान  नहीं,
किसी एक दिल के लिए,
अपनी पूरी जिन्दगी बिताना आसान नहीं ...........
मेरी इन आँखों ने भी देखे ख्वाब कई पर,
किसी और की आँखों  का ख्वाब  
बन न पाई  सो जिन्दगी पाना भी,
मेरे दिल के लिए, आसान नहीं .........


 


 

2 comments: